बीते दिनों हुई बर्निंग कार मामले का पुलिस ने किया उद्भेदन, एक हत्यारोपी गिरफ्तार !

सुपौल/छातापुर: आशीष कुमार सिंह

बीते दिनों हुई बर्निंग कार मामले का पुलिस ने किया उद्भेदन, एक हत्यारोपी गिरफ्तार !

बिहार/सुपौल: छातापुर थाना क्षेत्र के माधोपुर पंचायत अंतर्गत सुरसर पुल के समीप विगत 27 मई को संदेहास्पद स्थिति में कार में आग लगने से दो व्यक्तियों की हुई मौत पर से पर्दा उठ गया है। घटना के वैज्ञानिक अनुसंधान के दौरान क्षेत्रीय विधि विज्ञान प्रयोगशाला भागलपुर से आई पर्यवेक्षकों की टीम ने कार को जलाये जाने की पुष्टि की।

तत्पश्चात घटना की जांच कर रही पुलिस टीम ने कांड का उद्भेदन करते हुए मुख्य आरोपी साहूगढ़ मधेपुरा निवासी संतोष यादव ,पिता गोलहन यादव को गिरफ्तार कर लिया है।

SS BROAZA HOSPITAL
SS BROAZA HOSPITAL
Sai-new-1024x576

 

उक्त जानकारी थाना परिसर में सोमवार को प्रेस कांफ्रेंस कर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी त्रिवेणीगंज गणपति ठाकुर ने बताया कि आरोपी ने घटना में अपनी संलिप्तता स्वीकार करते हुए शामिल अन्य अपराधियों का नाम भी पुलिस को बताया है। गौरतलब है कि घटना की तिथि को रात्री करीब साढ़े आठ बजे एक सेलेरियो कार अचानक पुल के समीप धु-धु कर जलती पाई गई थी। जिसमें दो व्यक्ति रविशंकर प्रसाद साह उर्फ रवि व अनिल कुमार का शव भी क्षत विक्षत स्थिति में जला हुआ पाया गया।

सिर्फ एक क्लिक में देखें बर्निंग कार मामले का पुलिस ने किया उद्भेदन

मृतक के परिजनों द्वारा शव की पहचान करते हुए छातापुर थाना में हत्या की आशंका जताते हुए कांड संख्या 150/21दर्ज कराई गई। कांड की गंभीरता को देखता हुए अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी त्रिवेणीगंज के नेतृत्व में पुलिस निरीक्षक राजेश कुमार , त्रिवेणीगंज थानाध्यक्ष संदीप कुमार सिंह, छातापुर थानाध्यक्ष अभिषेक अंजन पुलिस टीम गठित करते हुए जांच की प्रक्रिया शुरु हुई और आखिरकार मामले का सफलता पूर्वक उद्भेदन कर लिया गया।

हत्यारोपी संतोष यादव ने अपने स्वीकारोक्ति बयान में बताया है कि वे और मृतक सभी दोस्त मिलकर शराब/गांजा की तस्करी करते थे। सभी दोस्तों की बैठकी संतोष के गैरेज पर थी जहां दो लाख रुपये को लेकर दोस्तों में विवाद खड़ा हो गया। शिवा का रुपया रवि और अनिल ने मिलकर पचा लिया। जिसके बाद प्रतिशोध में शिवा ने संतोष,लालू साह व एक अज्ञात व्यक्ति के साथ मिलकर रवि और अनिल को मारने की योजना बनाई।

योजना को अंजाम देते हुए संतोष यादव, शिवशंकर उर्फ शिवा साह,लालू साह एवं एक अन्य अज्ञात स्कार्पियो चालक ने मिलकर उक्त दोनों को अररिया जिला के नरपतगंज थाना के खैरा कोशिकापुर स्थित रणधीर यादव के गोदाम पर ले गए और एक कमरे में दोनों को बंद कर गला दबाकर उनकी हत्या कर दी। घटना को अंजाम देने के उपरांत उन्होंने पेट्रोल पंप से 10 लीटर पेट्रोल लाकर उन दोनों के शव को गाड़ी में लिटा दिया और गाड़ी पर पेट्रोल छिड़ककर आग लगा दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!