मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना के काम को 7 दिनों में करें पूरा: बी.डी.ओ !

सुपौल/सरायगढ़: विमल भारती

मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना के काम को 7 दिनों में करें पूरा: बी.डी.ओ !

बिहार/सुपौल: जिले के सरायगढ़ भपटियाही प्रखंड विकास पदाधिकारी ने अपने कार्यालय कक्ष में शुक्रवार के दिन जनप्रतिनिधियों तथा पंचायत सचिवों की बैठक की। बैठक में प्रखंड विकास पदाधिकारी अरविंद कुमार ने कहा कि मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना के कार्य को 7 दिनों के अंदर पूरा कर उसका प्रतिवेदन समर्पित करना आवश्यक है।


उन्होंने कहा कि जो भी जनप्रतिनिधि और पंचायत सचिव समय से सात निश्चय योजना पर किए गए खर्च का रिपोर्ट नहीं देंगे, उसके ऊपर कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने बैठक में उपस्थित मुखिया तथा अन्य से 15 वीं वित्त योजना सहित अन्य योजनाओं के राशि खर्च करने के बारे में भी जानकारी ली। बैठक में प्रखंड विकास पदाधिकारी ने कहा वित्तीय वर्ष 16/17 तथा 17/18 में विभिन्न पंचायतों का ऑडिटर किया गया था। ऑडिटर रिपोर्ट में कुछ पंचायतों के योजनाओं के खर्च पर आपत्ति व्यक्त करते हुए उसके निराकरण की बातें कही गई थी। लेकिन वैसे मामले का निपटारा अब तक नहीं हुआ है, और इसको लेकर ऑडिटर के कार्यालय से बार-बार पत्र भेजा जा रहा है। प्रखंड विकास पदाधिकारी ने कहा है कि ऐसे पंचायत के मुखिया तथा पंचायत सचिव ऑडिटर द्वारा दिए गए निर्देश का शीघ्र पालन करें अन्यथा मामला लोक लेखा समिति के पास जा सकता है।


उन्होंने कहा कि लोक लेखा समिति के पास मामला जाने के बाद वह विधानसभा तक पहुंचेगा और फिर कार्यवाही शुरू हो जाएगी, जो परेशानी का कारण बनेगा। प्रखंड विकास पदाधिकारी ने बैठक में उपस्थित संबंधित पंचायत के मुखिया तथा पंचायत सचिव से कहा ऑडिटर द्वारा आपत्ति किए गए बिंदुओं का शीघ्र निष्पादन कर रिपोर्ट समर्पित करें।

प्रखंड विकास पदाधिकारी ने बैठक में कोरोना संक्रमण को लेकर उत्पन्न हालात पर भी विस्तृत चर्चा की। उन्होंने मुखिया पंचायत सचिव तथा अन्य जनप्रतिनिधियों से अनुरोध किया कि सभी अपने अपने क्षेत्र में बाहर से आने वाले लोगों पर नजर रखें और वैसे लोगों को अस्पताल तक भेज कर उसका कोरोना जांच कराने के बाद कोरोना वैक्सीन लगवाने को कहें। कहा कि इससे हम अपने-अपने पंचायत और गांव को कोरोना संक्रमण से बचा सकते हैं। प्रखंड विकास पदाधिकारी अरविंद कुमार ने बैठक में कहा कि कई लोग बाहर के प्रदेश से घर लौट रहे हैं। वैसे प्रदेश से लौट रहे लोग जहां कोरोना संक्रमण काफी उफान पर है, उनका का जांच शीघ्र होना जरूरी हो जाता है।

उन्होंने कहा कि लोगों को भी चाहिए कि घर पहुंचने से पहले अस्पताल पहुंचकर करोना जांच करवा ले। प्रखंड विकास पदाधिकारी ने कहा कोरोना संक्रमण नहीं फैले इसके लिए हम सबकी जिम्मेदारी है कि जो जहां है, वहीं से इस बारे में पहल करें। कोरोना से बचाव के लिए जो गाइडलाइन तैयार किया गया है उसका भी पालन हो। लोग हमेशा मास्क का प्रयोग करें और भीड़भाड़ वाले जगहों पर जाने से बचें। प्रखंड विकास पदाधिकारी ने कहा किस सतर्क रहकर हम कोरोना संक्रमण को रोक सकते हैं।

उन्होंने कहा कि दोबारा बढ़ रहे कोविड-19 का संक्रमण एक बार फिर चुनौती बन सकता है जिसको शुरुआत में ही रोकने की जरूरत है। बैठक में आवर प्रखंड विकास पदाधिकारी ऋषभ, मुखिया राजकुमार यादव, अवधेश प्रसाद साहू, श्याम कुमार यादव, मुखिया बीवी नसीमा खातून, मुखिया पन्ना देवी, सुनीता देवी, सुमित्रा देवी, नीलम मेहता, पूर्व हरदेव प्रसाद यादव, राम प्रसाद मंडल, मो. मुस्तफा कमाल, मो. मिन्नतुल्लाह, किशोर यादव, सूर्यनारायण मेहता, पंचायत सचिव दुर्गा प्रसाद मंडल, प्रमोद पासवान, जय कुमार यादव, कार्यालय कर्मी पल्लवी कुमारी सहित अन्य उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!