निजीकरण के विरोध में बैंक कर्मियों ने की नारेबाजी !

gaurish mishra

सुपौल/करजाईन: गौरीश मिश्रा

निजीकरण के विरोध में बैंक कर्मियों ने की नारेबाजी !

बिहार/सुपौल : बैंक एसोसिएशन यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियन के आह्वान पर आहूत दो दिवसीय हड़ताल के चलते मंगलवार को भी क्षेत्र के बैंकों में ताले लटके रहे।वहीं बैंक कर्मियों ने कामकाज ठप रखकर हाथों में निजीकरण विरोधी तख्ती लिए विरोध प्रदर्शन किया। कर्मियों ने शाखा के सामने जमकर नारेबाजी कर अपनी मांगें बुलंद की।

sai hospital

प्रदर्शन में शामिल क्षेत्र के बैंक ऑफ इंडिया के प्रबंधक सुमित कुमार, तरुण कुमार भगत, नरेंद्र कुमार, अधिकारी संतोष चंद्र प्रमाणीय, कर्मी अशोक कुमार झा, संतोष कुमार यादव, रामविलास मेहतर, संदीप कुमार प्रणव, रोशन कुमार, वेदानंद आदि ने कहा कि सरकार द्वारा बैंकों के किए जा रहे निजीकरण के विरोध में बैंककर्मी दो दिवसीय हड़ताल पर हैं।

हड़ताली बैंक अधिकारी व कर्मियों ने रोष जताते हुए कहा कि बैंक के निजीकरण करने का खामियाजा आम लोगों को भुगतना पड़ेगा। औधोगिक घराने को फायदा पहुंचाने के लिए निजीकरण का सहारा लिया जा रहा है।

इधर बैंक बंद होने से लोगों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ा। जिन्हें बैंक बंद की जानकारी नहीं थी वो बैंक के बाहर आकर निराश होकर लौट गए।दिनभर नगदी के लिए लोग इधर-इधर भटकते रहे। जब शनिवार एवं रविवार की छुट्टी के बाद सोमवार एवं मंगलवार को हड़ताल के चलते एटीएम भी खाली हो गए। ऐसे में कैश की किल्लत से लोग परेशान दिखे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!