रालोसपा के जदयू में विलय से कार्यकर्ताओं में छाई ख़ुशी की लहर !

gaurish mishra

सुपौल/करजाईन: गौरीश मिश्रा

रालोसपा के जदयू में विलय से कार्यकर्ताओं में छाई ख़ुशी की लहर !

बिहार/सुपौल : राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के जदयू में विलय एवं पार्टी सुप्रीमो उपेंद्र कुशवाहा को जदयू संसदीय बोर्ड का अध्यक्ष नियुक्त करने पर कार्यकर्ताओं में ख़ुशी की लहर व्याप्त है।कार्यकर्ताओं ने इसके लिए उपेंद्र कुशवाहा को बधाई देते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का आभार जताया है।

sai hospital

पार्टी के वरिष्ठ नेता प्रशांत कुमार, पप्पू कुमार कुशवाहा एवं प्रदीप कुमार मेहता ने कहा कि रालोसपा का जदयू में विलय बिहार ही नहीं बल्कि पूरे देश के राजनीतिक विश्लेषकों को गहन चिंतन करने के लिए विवश कर दिया है।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपेन्द्र कुशवाहा का मिलन आने वाले वक्त में मील का पत्थर साबित होगा।यह विलय देश के समाजवादियों, सामाजिक न्याय के पैरोकारों, शोषितों, पीड़ितों और पिछड़ों को नई दिशा प्रदान करेगा।

उपेन्द्र कुशवाहा को जदयू के राष्ट्रीय संसदीय बोर्ड का अध्यक्ष बनाया जाना इस दिशा में पहली कड़ी है।साथ ही लव-कुश गठबन्धन को एकबार पुनः जिन्दा हो गया है। साथ ही राजनीति में कोई न स्थायी मित्र होता है और न दुश्मन। यह बात भी सत्य साबित हो गया है।लव-कुश जोड़ी से विरोधी खेमा में घबड़ाहट और बेचैनी बढ़ गई है। नेताओं ने कहा कि बिहार का धरती आजादी से पूर्व से ही राजनैतिक प्रयोग के लिए जाने जाते हैं।

चाहे गाँधीजी का चम्पारण सत्याग्रह हो या जेपी का सम्पूर्ण क्रांति बिहार ने देश को दिशा दी है।
नीतीश कुमार एवं उपेंद्र कुशवाहा के मिलन से पार्टी और मजबूत हो गई है। वहीं रालोसपा के विलय पर युवा नेता प्रदीप कुमार मेहता, अरबिंद कुमार मेहता, मोहम्मद इरफान, पप्पू कुशवाहा, प्रशांत कुमार, सुशील कुमार, अर्जुन कुमार, अभिनाश कुमार, उपेंद्र राय, प्रशांत भारती, रंजीत कुशवाहा आदि ने भी खुशी का इजहार किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!