सड़क दुर्घटना में जख्मी सर्वे अमीन की मौत !

सुपौल/सरायगढ़: विमल भारती

सड़क दुर्घटना में जख्मी सर्वे अमीन की मौत !

 

बिहार/सुपौल: भपटियाही सुपौल सड़क मार्ग के सरायगढ़ रेलवे ढाला समीप गुरुवार के दिन जेसीबी मशीन की चपेट में आने से जख्मी हुए सर्वे अमीन का शुक्रवार की रात मौत हो गई। वह 6 माह पूर्व नौकरी में योगदान लिए थे।

दुर्घटना के वक्त अमीन अपने किशनपुर स्थित आवास से सरायगढ़ भपटियाही अंचल कार्यालय काम पर आ रहे थे। उसी समय ओवरब्रिज बनाने में लगे जेसीबी से टकरा गया और उसका पेट फट गया। उसे उपचार हेतु सुपौल के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। शुक्रवार के दिन उसे पटना के लिए रेफर किया गया कि वैशाली समीप उसने दम तोड़ दिया।

SS BROAZA HOSPITAL
SS BROAZA HOSPITAL
Sai-new-1024x576

 

उसके शव को पोस्टमार्टम के लिए सुपौल लाया गया। शनिवार के दिन मृतक सर्वे अमीन के शव को अंचल कार्यालय लाया गया जहां प्रमुख विजय कुमार यादव, प्रखंड विकास पदाधिकारी सुश्री श्वेता, अंचलाधिकारी जय राम प्रसाद सिंह, पूर्व प्रखंड विकास पदाधिकारी गौतम कृष्णन, अंचल कार्यालय प्रधान सहायक धीमी रजक, दुर्गानंद यादव, अंचल नाजिर, अजय कुमार भारती, लिपिक नाहिद अख्तर, कार्यपालक सहायक ललन कुमार, डाटा एंट्री ऑपरेटर शशी भूषण कुमार, कार्यपालक सहायक शमीम आलम, कार्यपालक सहायक गौतम कुमार, कार्यालय परिचारी दिनेश यादव, कार्यालय परिचारी मोहम्मद रब्बान, प्रखंड प्रधान सहायक राजेंद्र राम, प्रखंड नाजिर कामेश्वर राम, अशोक कुमार, आईटी सहायक नीरज कुमार, कार्यालय परिचारी गंगा राउत, प्रखंड समन्वयक सीताराम ठाकुर, वार्ड रूम कर्मी अनिल कुमार, प्रखंड सहकारिता पदाधिकारी जयशंकर झा, पैक्स अध्यक्ष बैजनाथ प्रसाद यादव, सुखदेव पंडित, छितन पासवान, मोहम्मद इरफान सहित प्रखंड क्षेत्र के कई प्रमुख लोगों ने उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि दी।

श्रद्धांजलि सभा के दौरान सभी ने 2 मिनट का मौन रखा। मौन व्रत के बाद अंचलाधिकारी ने कहा कि मृतक सर्वे अमीन के परिजनों को अधिक से अधिक लाभ देने का पहल किया जाएगा। उन्होंने कहा कि अंचल अमीन सड़क दुर्घटना में मौत के शिकार हुए जिसे काफी प्रयास के बाद भी बचाया नहीं जा सका। अंचलाधिकारी ने कहा की पदाधिकारी स्तर पर सर्वे अमीन के मौत को लेकर कार्रवाई चल रही है। प्रयास है कि उसके परिजन अधिक से अधिक लाभ का हकदार हो।

श्रद्धांजलि सभा में पूर्व प्रखंड विकास पदाधिकारी सहरसा गौतम कृष्णन ने प्रस्ताव दिया कि सर्वे अमीन के परिजन पैसे-पैसे के लिए नहीं भटके इसके लिए उसे अंचल तथा प्रखंड कर्मी की ओर से भी सहायता दी जाए। उनके प्रस्ताव पर सभी ने सहमति दी तथा कोष गठन कर सभी ने सहयोग राशि देने की बात कही। अंचलाधिकारी ने कहा कि सर्वे अमीन हाल ही में नौकरी में आए थे और उसके साथ दर्दनाक घटना हो गई। इससे उसका परिवार टूट गया है जिसे संभालने की जरूरत है। श्रद्धांजलि सभा के बाद सर्वे अमीन के पार्थिव शरीर को उनके पैतृक गांव ले जाया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!