कोरोना से पति की मौत के बाद मुआवजा नहीं मिलने के कारण जनता दरबार में फफक-फफक कर रो पडी महिला !

मुंगेर: सोनू झा

 

कोरोना से पति की मौत के बाद मुआवजा नहीं मिलने के कारण जनता दरबार में फफक-फफक कर रो पडी महिला !

बिहार/मुंगेर: मुंगेर समाहरणालय में जनता दरबार में आई नया राम नगर थाना क्षेत्र के पाटम की रहने वाली 26 वर्षीय कंचन देवी अपने पति के कोरोना से मृत्यु के बाद मुआवजा राशि नहीं मिलने के कारण रो पड़ी। उन्होंने बताया कि इस वर्ष मई महीने में उसके पति राकेश कुमार की कोरोना से मौत हो गई थी। हमें दो छोटे- छोटे बच्चे भी हैं ।

Sai-new-1024x576
IMG-20211022-WA0002

 

पति के मौत के बाद हम उसके मुआवजा राशि के लिए कई कार्यालय का चक्कर लगाए। लेकिन हमें आज तक मुआवजा नहीं मिला। आज हम डीएम नवीन कुमार के जनता दरबार में आकर आवेदन दिए हैं। यह कहते-कहते वह फफक फफक कर रोने लगी। उन्होंने बताया कि अगर कोई मुआवजा नहीं दे सकता तो कुछ हमें काम भी दे दें, ताकि हम कुछ कमा कर अपने बच्चों का भरण पोषण कर सकें। बताते चलें यह वही कंचन देवी है जिसके पति की मौत होने के बाद अपने बच्चों के साथ स्वास्थ्य विभाग ने इसे कोरेंटिन कर दिया था और कोरेंटिन पीरियड में ही यह पीपीई पहनकर पति का दाह संस्कार खुद की थी ।

फिर भी सिस्टम की मार यह महिला झेल रही है। वहीं कंचन देवी ने डीएम कक्ष के बगल में फफक कर रोने लगी और कहने लगी कि डीएम को आवेदन दिए लेकिन उनकी तरफ से भी कुछ नहीं कहा गया। अब हम क्या करें और रोने लगी।

वही जब मीडिया की नजर महिला पर पड़ी तो मीडिया को भी अपनी बात बताने से इनकार करने लगी कि कई दफे अखबारों और टीवी की सुर्खियों में हम आ चुके हैं लेकिन कोई हमारा सुनने वाला नहीं है। हमारे दो बच्चे हैं ना खाने का कुछ है ना रहने का ऐसे में हम क्या करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!