खनन पदाधिकारी के छापेमारी में सुरसर नदी से अवैध खनन कर रहे तीन ट्रैक्टर जब्त !

डेस्क

खनन पदाधिकारी के छापेमारी में सुरसर नदी से अवैध खनन कर रहे तीन ट्रैक्टर जब्त !

बिहार/सुपौल: विभागीय निर्देश पर सुपौल जिला खनन पदाधिकारी अमिताभ ने बुधवार को माधोपुर पंचायत स्थित सुरसर नदी में चल रहे अवैध खनन स्थलों पर छापेमारी की । छातापुर थाना पुलिस बल के साथ किये गये छापेमारी के दौरान माधोपुर पंचायत स्थित नदी पर बने पूल के समीप बालु लदे तीन ट्रैक्टर को जब्त किया गया। हालांकि पुलिस को देखकर ट्रैक्टर चालक व मजदूर मौके से भाग निकलने में सफल रहा ।

SS BROAZA HOSPITAL
SS BROAZA HOSPITAL
Sai-new-1024x576

जब्त बालू लदे तीनों ट्रैक्टर को पुलिस के हवाले करने के बाद खनन पदाधिकारी मामले में प्राथमिकी दर्ज करने तथा आवश्यक कार्रवाई के लिए थाना पहुंच गये। खनन विभाग के द्वारा की गई छापेमारी और कार्रवाई से अवैध खनन से जुड़े धंधेबाजों के बीच खौफ का माहौल है। हालांकि ट्रैक्टर मालिक के सहयोगी ट्रैक्टर को छुड़ाने हेतू थाना पहूंचकर पैरवी में लगे रहे । परंतु आलाकमान के निर्देश पर हुई कार्रवाई के कारण पैरवीकारों की एक नहीं चली ।

थाना पर मौजूद खनन पदाधिकारी ने पूछने पर बताया कि खान एवं भूतत्व विभाग पटना के निर्देश पर छापेमारी की गई। विभाग को सूचना मिली थी कि सुरसर नदी में लगातार अवैध रूप से बालू और मिट्टी उत्खनन का खेल चल रहा है। शिकायत के आलोक में महद्दीपुर बाजार से पूरब प्रवाहित नदी से बालू लदे तीन ट्रैक्टर को पकड़ा गया । पुलिस को आते देख चालक व मजदूर मौके से भाग निकले ।

खनन के दौरान 80 फीट लंबाई व 70 फीट चौराई तथा पांच फीट गहराई में बालू का खनन किया हुआ पाया गया । इस हिसाब से तीनों ट्रैक्टरों द्वारा नदी से 28 हजार सीएफटी बालू का उत्खनन किया गया। बताया कि उन्हें मधेपुरा के अलावे सुपौल जिले का भी प्रभार है। सूचना या शिकायत मिलने पर लगातार छापामारी की जा रही है।

सवाल के जवाब में उन्होंने बताया कि अवैध रूप से उत्खनन की शिकायत मिलने पर पुलिस के द्वारा भी छापेमारी कर विधि सम्मत कानूनी कार्रवाई की जा सकती है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!