मनाया गया शहीद भिखेंद्र नारायण भूवन की 23वीं पुण्यतिथि।

सुपौल/जदिया: श्रवण चौधरी

मनाया गया शहीद भिखेंद्र नारायण भूवन की 23वीं पुण्यतिथि।

वर्तमान समय में ऐसे नौजवानों की जरूरत है जो हर जुल्म, अत्याचार के खिलाफ आवाज उठा सके: ईं निराला

बिहार/सुपौल: छातापुर प्रखंड के भवानीपट्टी गांव में सादगी पूर्ण तरीके से महान समाजसेवी शहीद भिखेन्द्र नारायण भूवन की 23वीं पुण्यतिथि मनाया गया। कार्यक्रम की शुरुआत उनके तैलीय चित्र पर श्रद्धा के पुष्प अर्पित कर किया गया। साथ ही सामूहिक मौन धारण कर उनके प्रति उपस्थित सभी कार्यकर्ताओं ने उनके अधूरे मिशन को पूरा करने का संकल्प भी लिया।

समाजसेवी कृष्णा राज द्वारा आयोजित श्रद्धांजलि सभा में सभी वक्ताओं ने बी केंद्र भवन के प्रति अपनी संवेदनाएं व्यक्त की तथा उनके किए गए कार्यों की सराहना की। श्रद्धांजलि कार्यक्रम में मुख्य रूप से मुख्य वक्ता के रूप में राष्ट्रीय युवा महासंघ के अध्यक्ष इंजीनियर एलके निराला उपस्थित रहे।

SS BROAZA HOSPITAL
SS BROAZA HOSPITAL
Sai-new-1024x576

 

अपने अध्यक्षीय भाषण में ईं निराला ने भिखेंद्र भूवन के कार्यशैली पर विस्तृत चर्चा किए । इंजीनियर निराला ने कहा आज समाज में नौजवानों की एक फौज की आवश्यकता है जो हर जुल्म, अत्याचार, भ्रष्टाचार, सामाजिक कुप्रथा के खिलाफ सशक्त होकर स्वैच्छिक तथा निर्भीक आंदोलन कर सकें ताकि जनमानस में जनजागृति हो। उन्होंने बाबा साहब डॉक्टर अंबेडकर को याद करते हुए कहा जो कौम अपने इतिहास को नहीं जानता वह अपने भविष्य का निर्माण कभी नहीं कर सकता।

इसलिए हम लोगों को अपने महापुरुषों, क्रांतिकारियों के जीवन से सीख लेने की आवश्यकता है तथा उनके अधूरे मिशन को पूरा करने की भी आवश्यकता है। इंजीनियर निराला ने बताया वर्तमान दौर की राजनीति उथल-पुथल के कारण युवा राजनीति में पैर नहीं रखना चाहते हैं और इतिहास गवाह है संकट के बादल जब- जब इस देश पर मंडराए हैं यहां के युवाओं ने तूफान बन कर संकट के बादल को बरसने से रोका है ।इसलिए आज हम लोगों को उन क्रांतिकारियों को याद करते हुए हमें भी अपना योगदान ,समय, हुनर और व्यक्तित्व का सदुपयोग समाज के लिए करना चाहिए।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए राजेश्वरी पूर्वी पंचायत के सरपंच नंदकिशोर यादव ने कहा वर्तमान समय में क्रांति और सच्चाई की लड़ाई लड़ने वाले को सलाखों के पीछे जाना पड़ता है। श्रद्धांजलि कार्यक्रम में शहीद कॉमरेड भिखेंद्र भूवन के पुत्र रामनारायण भावुक हो गए। उन्होंने अपने पिता को याद करते हुए रामनारायण ने कहा हमारे पिताजी हमेशा शोषित वंचित की लड़ाई लड़ने का काम किया और उनके असमय हत्या के कारण हमारे परिवार को कई तरह की प्रताड़ना भी झेलना पड़ा।

कार्यक्रम को मुख्य रूप से पूर्व मुखिया विनोद कुमार यादव, राष्ट्रीय युवा महासंघ के मार्गदर्शक दिलीप कुमार यादव, दीपक बख्शी, सरिता चौपाल, कृष्णा राज, श्रवण यादव आदि ने संबोधित किया। पुण्य तिथि के अवसर पर पर्यावरणविद रामप्रकाश रवि के द्वारा कई फलदार वृक्ष भी लगाया गया। सरिता चौपाल के द्वारा स्मारक का नींव भी रखा गया। कार्यक्रम का मंच संचालन अरविंद कुमार यादव ने किया। कार्यक्रम में मुख्य रूप से नंदकिशोर यादव, रामानंद यादव, प्रिंस कुमार, सत्यनारायण शर्मा, चतुर आनंद यादव, योगानंद यादव, राजेंद्र यादव, श्याम यादव निशू, गौरी भारती आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!