त्रिलोक धाम गोसपुर में मिथिला जागरण यात्रा का किया स्वागत !

gaurish mishra

सुपौल/करजाईन: गौरीश मिश्रा

त्रिलोक धाम गोसपुर में मिथिला जागरण यात्रा का किया स्वागत !

जनगणना में मातृभाषा के स्थान पर मैथिली लिखवाने एवं मैथिली का अधिक से अधिक प्रयोग करने की अपील !

बिहार/सुपौल : ग्रेटर मिथिला एसोसिएशन के तत्वाधान में निकली जनजागरण यात्रा शुक्रवार को राघोपुर प्रखंड अंतर्गत परमानंदपुर पंचायत के गोसपुर गांव पहुंची। मैथिली के प्रति जागृति के उद्देश्य से निकली मिथिला जागरण यात्रा में शामिल प्रबुद्धजनों का गोसपुर स्थित त्रिलोक धाम में आचार्य धर्मेन्द्रनाथ मिश्र के नेतृत्व में स्वागत किया गया।

SS BROAZA HOSPITAL
SS BROAZA HOSPITAL
Sai-new-1024x576

 

इस दौरान आचार्य धर्मेन्द्रनाथ ने बताया कि आगामी जनगणना में मातृभाषा के स्थान पर मैथिली लिखने को लेकर मिथिला के सभी वर्गों के बुद्धिजीवी एवं विद्वानों के द्वारा अभियान एवं मिथिला जागरण यात्रा का शुभारंभ जोर-शोर से किया गया है।

इसी कड़ी में शुक्रवार को त्रिलोक धाम गोसपुर में उद्घोषक किसलय कृष्ण के नेतृत्व में यह मिथिला जागरण यात्रा पहुंची। इस मौके पर किसलय कृष्ण , आचार्य धर्मेन्द्रनाथ सहित अन्य लोगों ने सभी वर्गों के जनमानस से आग्रह एवं अपील की कि इस बार के जनगणना में मातृभाषा में मैथिली ही लिखावे तथा सभी से यह भी अपील किया गया कि प्राथमिक शिक्षा का माध्यम भी मैथिली में ही हो। इसके लिए आवाज बुलंद करें। साथ-साथ उन्होंने कहा कि अपने- अपने गांव के विद्यालय प्रबंधन से यह आग्रह करें कि पाठशाला में प्राथमिक शिक्षा का माध्यम मैथिली ही हो एवं मातृभाषा का प्रयोग भी सभी जगहों पर अधिक से अधिक करें।

इस अवसर पर पंडित शचीन्द्रनाथ मिश्र, पंडित जागेश्वर झा, पंडित उमेश झा, कृत्यानंद मेहता, विष्णुदेव पौद्दार, विवेक मिश्रा “विक्की”, सुरेश चन्द्र मिश्र, अवधेश झा आदि ने भी मातृभाषा मैथिली का अधिक से अधिक प्रसार करने की अपील की। इन्होंने कहा कि मैथिली जगत जननी जानकी की भाषा है इसलिए इनका नाम मैथिली है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!