तारापुर उपचुनाव RJD उम्मीदवार अरुण शाह ने किया जीत का दावा, कहा लालू भी आकर करेंगे प्रचार !

मुंगेर: सोनू झा

तारापुर उपचुनाव RJD उम्मीदवार अरुण शाह ने किया जीत का दावा, कहा लालू भी आकर करेंगे प्रचार !

बिहार/मुंगेर : बिहार में 30 अक्टूबर को कुशेश्वरस्थान और तारापुर में विधानसभा उपचुनाव (By-Election) है। दोनों सीटें जदयू विधायकों के निधन से खाली हुई है। एक ओर इस चुनाव में एनडीए ने कुशवाहा जाति के राजीव कुमार सिंह को अपना उम्मीदवार बनाया है। वहीं, राजद ने वैश्य उम्मीदवार अरुण शाह (Arun Shah) को मैदान में उतारा है। राजद उम्मीदवार अरुण साह पार्टी का सैंपल लेकर तारापुर विधानसभा चुनाव में पहुंचे।

SS BROAZA HOSPITAL
SS BROAZA HOSPITAL
Sai-new-1024x576

अरुण शाह ने बताया कि महागठबंधन के तमाम नेताओं को आश्वस्त करना चाहता हूं कि पार्टी कैडर का वोट तो मुझे आएगा ही वैश्य मतदाता भी मेरे नाम पर गोलबंद होकर हमें वोट करेंगे और यह सीट जीतकर महागठबंधन की झोली में डालने का काम करूंगा।

उन्होंने कहा कि लालू यादव की तबीयत में सुधार हो रहा है। संभवतः 2 से 3 दिनों में वे बिहार आ रहे हैं। अरुण शाह ने बताया कि राजद सुप्रीमो लालू यादव भी तारापुर विधानसभा क्षेत्र का दौरा कर चुनाव प्रचार करेंगे और मतदाताओं से हमें वोट देने की अपील भी करेंगे। उन्होंने मुझे बताया है कि हम तारापुर विधानसभा में आकर कैंपेन करेंगे।

बता दें कि तारापुर विधानसभा का अस्तित्व सन 1951 में आया। तब से लेकर आज तक राजद ने वैश्य को अपना उम्मीदवार नहीं बनाया था। पहली बार तारापुर विधानसभा क्षेत्र में राजद ने वैश्य उम्मीदवार पर अपनी आस्था जताई है। वैसे अब उम्मीदवार के प्रचार में राजद सुप्रीमो लालू यादव के आने की खबर सुनकर ही राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन में खलबली मच गई है।


तारापुर में जातीय समीकरण, अगर महागठबंधन के वोटरों की बात करें तो वैश्य उम्मीदवार होने के कारण वैश्य जाति का वोट उन्हें कैडर वोट के बाद अलग मिलेगा। ऐसा कयास लगाया जा रहा है कि वैश्य मतदाता पार्टी धारा के विपरीत आरजेडी के उम्मीदवार को वोट करेंगे।

तारापुर विधानसभा में कुल मतदाताओं की संख्या 3,13,064 है। जिसमें वैश्य मतदाता करीब 42 हजार है, यादव करीब 65 हजार, कुशवाहा 58 हजार, मुस्लिम मतदाता 22 हजार से ज्यादा है। वहीं, बिंद जाति के मतदाता 22 हजार, राजपूत 20 हजार, भूमिहार 10 हजार, ब्राह्मण 20 हजार, पासवान जाति 15 हजार, रविदास 15 हजार, मांझी- तांती समेत अन्य जातियों के 25 हजार मतदाता शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!